Latest Posts:
Category

Trust Quotes

Category

जिंदगी तुझको भी आजमा के देख लिया। तू भी बेवफा निकली किसी बेवफा की तरह। ‘पुष्पक’ ने बेइंतहा टूट कर, चाहा था तुम्हें। पर तू भी मुक़मल हुई, सिर्फ एक सज़ा की तरह॥

जिंदगी तुझको भी आजमा के देख लिया।तू भी बेवफा निकली किसी बेवफा की तरह।'पुष्पक' ने बेइंतहा टूट कर, चाहा था तुम्हें।पर तू भी मुक़मल हुई, सिर्फ एक सज़ा की तरह॥
तुम्हारी यादों से है मेरी ज़िन्दगी में रौनक इसलिए अपनी नहीं तुम्हारी ज़िन्दगी की दुआ करते हैं

तुम्हारी यादों से है मेरी ज़िन्दगी में रौनक इसलिए अपनी नहीं तुम्हारी ज़िन्दगी की दुआ करते हैं

तुम्हारी यादों से है मेरी ज़िन्दगी में रौनक इसलिए अपनी नहीं तुम्हारी ज़िन्दगी की दुआ करते हैं